chessbase india logo

ग्रैंड चैस टूर - आनंद के सामने अब वापसी की चुनौती

06/07/2019 -

क्रोशिया ग्रैंड चैस टूर भारत के पांच बार के विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद के लिए अब तक मुश्किलों भरा रहा है और 9 राउंड में अब तक उनके हाथ एक भी जीत नहीं लगी है । पहला मुकाबला रूस के इयान नेपोमनियाची से हारने के बाद उन्होंने लगातार सात मुकाबले ड्रा खेले और  अब नौवा मुकाबला वह अजरबैजान के शकिरयर मामेद्यारोव से पराजित हो गए है ।  हालाँकि आठवे राउंड में उनके पास विश्व नंबर 2 अमेरिका के फबियानो करुआना को पराजित करने के बेहद शानदार मौका था पर वह उसका फायदा नहीं उठा सके । भारत के लिए चिंता की बात यह है की इस हार से आनंद विश्व लाइव विश्व रैंकिंग में शीर्ष 10 से बाहर हो गए है और 13 वे स्थान पर पहुँच गए है पिछले 16 साल में यह आनंद की सबसे कम एलो रेटिंग है ।  अप्रैल 2003 के बाद यह पहला मौका है जब आनंद की रेटिंग 2760 अंक के बीचे 2757 पर पहुँच गयी है ।  खैर अभी 2 राउंड बाकि है और आनंद से वापसी की पूरी उम्मीद है उन्हें अब रूस के सेर्गी कार्याकिन और  अमेरिका के हिकारू नाकामुरा से अपना मुकाबला खेलना है ।  पढ़े यह लेख। 

 

Christian Bauer: The nasty Nimzowitsch Defence 1.e4 Nc6

The Nimzowitsch Defence, 1.e4 Nc6, is a lesser-known and by far less popular branch of opening theory from the great strategist Aron Nimzowitsch. Hence 1...Nc6 as an answer to 1.e4 can be used as a surprise weapon in your games.

कॉमनवैल्थ 2019: अपराजित अभिजीत सबसे आगे

04/07/2019 -

देश की राजधानी नई दिल्ली में दिल्ली शतरंज संघ के आयोजन में 30 जून से 7 जुलाई तक होने वाली कॉमनवेल्थ चेस चैम्पियनशिप का आयोजन दिल्ली के द लीला एम्बिनेस होटल में हो रहा है। अपने शानदार शतरंज प्रतियोगिताओं के आयोजन से शतंरज के विश्व पटल पर स्थापित होकर शतरंज प्रेमियों के दिल में जगह बना चुके दिल्ली शतरंज संघ इस बेहतरीन आयोजन की सफलता को लेकर पूरी तन्मयता से लगा हुआ है। 10 लाख की पुरस्कार राशि वाली कुल आठ वर्गों में होने वाली इस प्रतियोगिता के ओपेन वर्ग में 9 राउण्ड और सात आयु वर्गों में 7 राउण्ड के मैच खेले जाएगे। ओपेन वर्ग में छह राउण्ड की समाप्ति के बाद प्रतियोगिता के शीर्ष वरियता खिलाड़ी और चार बार के कॉमनवेल्थ चैम्पियन दिल्ली के अभिजीत गुप्ता (2606) ने अपराजित रहते हुए 5.5 अंक अर्जित कर अंक तालिका में पहले स्थान पर काबिज हो गए है। वहीं दूसरे स्थान पर 5 अंक बनाकर संयुक्त रूप से एरगासी अर्जुन व एम आर ललित बाबू चल रहे है। शीर्ष पर चल रहे अभिजीत गुप्ता की बेहतरीन जीत तीसरे राउण्ड में शतरंज के सभी फॉर्मेट में विजेता बने अरविंद चितंबरम के खिलाफ है। प्रतियोगिता में महिला ग्रांडमास्टरभक्ति कुलकर्णी, अपराजित रहते हुए 4.5 अंक बनाकर अंकतालिका में संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर चल रही हैं और महिलाओ मे पहले स्थान पर है पढ़े नितेश श्रीवास्तव की रिपोर्ट

क्रोशिया ग्रैंड चेस टूर - आनंद नें खेला लगातार 5वा ड्रा

02/07/2019 -

ग्रांड चेस टूर के छठे मुक़ाबले में भारत के विश्वनाथन आनंद नें प्रतियोगिता में अपना लगातार पाँचवा ड्रॉ खेला । प्रतियोगिता के पहले मैच में ही आनंद को रूस के नेपोमनियची से हार का सामना करना पड़ा था और ऐसे में उन्हे अगला मुक़ाबला विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन से खेलना पड़ा पर आनंद नें ना सिर्फ कार्लसन से ड्रॉ खेला बल्कि उसके बाद अर्मेनिया के लेवान अरोनियन से , अमेरिका के वेसली सो से , फ्रांस के मेक्सिम लागरेव से और नीदरलैंड के अनीश गिरि से ड्रॉ खेला ।  11 राउंड की प्रतियोगिता मे अब तक छह राउंड के बाद नॉर्वे के विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन , रूस के नेपोमनियची और अमेरिका के वेसली सो 4 अंक बनाकर सयुंक्त बढ़त पर चल रहे है आनंद फिलहाल 2.5 अंको पर है और देखना होगा की वह अंतिम 5 राउंड में क्या कुछ आक्रामक रुख अपनाएँगे । पढे यह लेख

मुंबई मेयर कप -तजाकिस्तान के ओमाण्टोव बने विजेता

30/06/2019 -

भारतीय ग्रीष्मकालीन शतरंज के इंटरनेशनल टूर्नामेण्ट के दूसरे पड़ाव 12वीं मुंबई मेयर कप इंटरनेशनल ओपेन चेस टूर्नामेण्ट का समापन बीते 17 जून को हो गया। वीनस चेस एकेडमी के आयोजन में मुंबई के मांउट लिट्रा स्कूल इंटरनेशनल में हुए इस टूर्नामेण्ट के ए कैटेगरी का खिताब टाइब्रेक के आधार पर ताजिकिस्तान के ग्रांडमास्टर अमानटोव फारुख (2624) ने 10 राउण्ड के मैच में 8 अंक हासिल कर अपने नाम कर लिया। हालांकि उनकी रेटिंग और परफार्मेस रेटिंग में कोई खास अंतर नहीं रहा। पूरी प्रतियोगिता में अमानटोव फारूख ने अपराजित रहते छह मैचों में जीत दर्ज की और चार मैच में उन्हें ड्रा हासिल हुआ। विजेता बनने पर उन्हें एक शानदार ट्रॉफी के साथ तीन लाख तीस हजार रुपये पुरस्कार स्वरुप मिले। बात करें भारतीय खिलाड़ियों के प्रदर्शन की तो ग्रांडमास्टर आर आर लक्ष्मण 7.5 अंक बनाकर अंकतालिका में 10वें स्थान पर आने में सफल रहे। अंतिम के दो राउण्ड में दो ग्रांडमास्टरों पर उनकी जीत बेहद अहम रही। पढ़े नितेश श्रीवास्तव की रिपोर्ट

अर्मेनिया के सहकयान समवेल बने गोवा इंटरनेशनल के विजेता

30/06/2019 -

भारत के ग्रीष्मकालीन इंटरनेशनल शतरंज टूर्नामेंट की आखिरी कड़ी गोवा इंटरनेशनल शतरंज चैंपियनशिप का भव्य समापन गोवा के डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी इंडोर स्टेडियम में गोवा के मुख्यमंत्री माननीय प्रमोद सावंत की उपस्थिति में संपन्न हुआ ।साथ ही साथ अखिल भारतीय शतरंज के भी अधिकतर पदाधिकारी कार्यक्रम में शिरकत करने वहां पहुंचे । गोवा इंटरनेशनल नें अपने दूसरे संस्करण में ही कई मायनों में भारत के सबसे बेहतरीन ग्रैंडमास्टर शतरंज टूर्नामेंट होने का तमगा हासिल कर लिया  । कारण साफ़ है की ग्रैंडमास्टरों की अधिकतम प्रतिभागिता , उन्हें दी जाने वाली सुविधाए और बेहतरीन आयोजन स्थल नें खिलाडियों को अच्छा खेलने के लिए प्रेरित किया ।इस बीच अर्मेनिया के सहकयान समवेल नें ख़िताब अपने नाम किया । नुबेरशाह शीर्ष भारतीय खिलाडी रहे तो डी गुकेश , देबाशीष दास और अनुज श्रीवात्री शीर्ष 15 में शामिल भारतीय खिलाडी रहे . चेसबेस इंडिया नें प्रतियोगिता के दौरान अप्पको हर खबर से परिचित कराया पढ़े यह लेख .

गोवा इंटरनेशनल - 7 भारतीय खिलाड़ियों को मिले नार्म

25/06/2019 -

गोवा इंटरनेशनल नें इस बार अपने आयोजन को हर मायने मे बेहतर किया है और प्रतियोगिता के पहले ही वर्ग के लिए बनाए गए उनके नियमों का असर 9 राउंड की समाप्ति पर दिखाई भी दिया । इस बार 1900 रेटिंग से कम के खिलाड़ियों को प्रतियोगिता में अनुमति ना देना इसके नार्म की संभावना को बढ़ा रहा था और परिणाम ये आया की सात भारतीय खिलाड़ियों नें इस दौरान इंटरनेशनल नार्म हासिल का लिए और इस बात नें भी इसे वर्ष का सबसे सफल ग्रांड मास्टर टूर्नामेंट बना दिया । प्रतियोगिता में पहले ही दो खिलाड़ी मित्रभा गुहा और संकल्प गुप्ता इंटरनेशनल मास्टर बन चुके है और अब अनुज श्रीवात्रि ,के प्रियांका ,आरएस रथनवेल , नीलेश सहा ,मित्रभा गुहा ,आर्यन वर्षने को इंटरनेशनल मास्टर नार्म और साइना सोनालिका को वुमेन इंटरनेशनल मास्टर नार्म हासिल हुआ ।

गोवा इंटरनेशनल R 8 – रोमांचक होती जंग !

24/06/2019 -

गोवा इंटरनेशनल शतरंज चैंपियनशिप में सातवे और आठवे राउंड के मुक़ाबले के दौरान काफी उतार चढ़ाव देखने को मिले । अर्मेनिया के ग्रांड मास्टर पेट्रोसियन मेनुएल नें अपने अपराजित रहने के रिकार्ड को बरकरार रखते हुए 7 अंको के साथ एकल बढ़त कायम रखी है । सातवे  राउंड मे उन्होने पहले हमवतन सहकयान समवेल के साथ ड्रॉ खेला और फिर भारत के इनियान पी को आठवे राउंड में हराते हुए खिताब की ओर अपने कदम बढ़ा दिये है हालांकि अभी दो राउंड बाकी है और उन्हे अपने इसी प्रदर्शन को बरकरार रखना होगा । आज भारत के शीर्ष बोर्ड पर खराब दिन बीता और उसके अधिकतर शीर्ष खिलाड़ी हार गए । हालांकि भारत के नीलेश सहा और अनुज श्रीवात्रि ग्रांडमास्टर के उपर जीत दर्ज करने वाले खिलाड़ी रहे । पढे यह लेख

गोवा इंटरनेशनल : R-6&7:भारत के इनियान शीर्ष पर पहुंचे

23/06/2019 -

गोवा इंटरनेशनल शतरंज चैंपियनशिप में 5 वां दिन भारत के लिहाज से अच्छा साबित हुआ । सबसे आगे चल रहे अर्मेनिया के पेट्रोसियन मेनुएल के दो ड्रॉ खेलने का फायदा ये हुआ की भारत के इनियान पी नें लगातार दो जीत दर्ज करते हुए सयुंक्त बढ़त में अपना स्थान बना लिया हालांकि शीर्ष पर दो नहीं तीन खिलाड़ी है और अर्मेनिया के सहकयान समवेल भी भारत के दीपन चक्रवर्ती को हराकर अच्छे लय में है और 6 अंको के साथ खिताब के सशक्त दावेदार भी । खैर 5.5 अंको पर 11 खिलाड़ी है मतलब साफ है प्रतियोगिता अभी बिलकुल खुली हुई है और इन 14 खिलाड़ियों में से कोई भी विजेता बन सकता है पढे यह लेख । 

गोवा इंटरनेशनल : आंध्रप्रदेश के गोपाल कार्तिक बने कैटेगरी बी विजेता

22/06/2019 -

भारतीय ग्रीष्मकालीन शतरंज के इंटरनेशनल टूर्नामेण्ट के दो पड़ाव की समाप्ति के बाद तीसरे पड़ाव की शानदार शुरुआत गोवा के डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी, इंडोर स्टेडियम में 18 जून से दूसरी गोवा इंटरनेशनल ओपेन चेस टूर्नामेण्ट के रुप में हो चुकी है। गोवा चेस एसोसिएशन के आयोजन में अपने आधे पड़ाव को पार कर चुकी यह प्रतियोगिता खिलाड़ियों द्वारा हो रहे बड़े उलटफेर से पूरे रोमांच पर है। तीन कैटेगरी ए बी सी ग्रुप में शुरू हुई यह प्रतियोगिता 25 जून तक चलेगी। 18 जून से शुरू हुई बिलो 1999 रेटिंग कैटेगरी में खेली गई ग्रुप बी प्रतियोगिता का शानदार समापन 21 जून को हो गया। कैटेगरी बी वर्ग का खिताब आंध्र प्रदेश के जी गोपाल कार्तिक के सिर सजा। जिन्होंने प्रतियोगिता अपने प्रतिद्धद्धियों को मोहरों की कलाकारी से पटखनी देते हुए 9 शानदार अंक अर्जित किये। 
पढ़े नितेश श्रीवास्तव की रिपोर्ट

गोवा इंटरनेशनल R 5 – अर्मेनिया के पेट्रोसियन मेनुएल नें बनाई बढ़त

22/06/2019 -

गोवा इंटरनेशनल शतरंज चैंपियनशिप के ग्रांड मास्टर वर्ग में खेले गए 5 वे राउंड के बाद अर्मेनिया के ग्रांड मास्टर पेट्रोसियन मेनुएल अपने सभी मुक़ाबले जीतकर 5 अंको के साथ एकल बढ़त पर आ गए है । उन्होने आज उक्रेन के अनुभवी ग्रांड मास्टर नेवेरोव वालेरीय को मात देते हुए एकल बढ़त हासिल कर ली । कल तक बढ़त में चल रहे दो और खिलाड़ी अर्मेनिया के सहकायन समवेल और कजाकस्तान के पीटर कोस्टेंकों नें आपस में ड्रॉ खेला और दोनों इसके साथ ही 4.5 अंको पर सयुंक्त दूसरे स्थान पर पहुँच गए है । भारतीय खिलाड़ियों दीपन चक्रवर्ती ,सम्मेद शेटे ,इनियान पी ,वियानी अंटोनिओ ,राहुल श्रीवास्तव ,संकल्प गुप्ता ,अनुराग महामल ,मित्रभा गुहा ,एम आर वेंकटेश और रथंवेल वीएस के साथ 4 अंक बनाकर सयुंक्त तीसरे स्थान पर चल रहे है । 

गोवा इंटरनेशनल R4 -चार खिलाड़ी चार अंको पर पहुंचे !

20/06/2019 -

गोवा इंटरनेशनल शतरंज टूर्नामेंट में चार राउंड के बाद चार खिलाड़ी 4 अंक बनाकर सयुंक्त बढ़त पर पहुँच गए है । सबसे खास बात 55 वर्षीय उक्रेन के ग्रांड मास्टर वालेरीय नेवेरोव की दूसरे वरीय जॉर्जिया के लेवन पंतुसूलिया पर जीत रही । आज खेले गए इस राउंड में कोई भी भारतीय खिलाड़ी चार अंको में नहीं पहुँच सका है । चार राउंड के बाद अपने चारो राउंड जीतकर कजाकिस्तान के पीटर कोस्टेंकों ,अर्मेनिया के समवेल सहकायन और मेनुएल पेट्रोसियन और उक्रेन के वालेरीय नेवेरोव सबसे आगे चल रहे है । हालांकि सिर्फ आधा अंक के अंतर पर भारत के दीपन चक्रवर्ती ,इनयान पी,वियानी अंटोनिओ ,और मित्रभा गुहा सयुंक्त दूसरे स्थान पर चल रहे है । 

गोवा इंटरनेशनल R 2&3 – रत्नाकरण के नाम रहा दिन !

20/06/2019 -

गोवा इंटरनेशनल शतरंज का दूसरा दिन भी काफी उलटफेर भरा रहा और कई शानदार मुक़ाबले देखने को मिले पर आज का दिन अगर किसी के नाम रहा तो वह है इंडियन मिखाइल मतलब इंटरनेशनल मास्टर कंथोंली रत्नाकरण के दरअसल उन्होने अपने खेल जीवन की कुछ सबसे शानदार जीतों में से एक जीत दर्ज करते हुए जॉर्जिया के दिग्गज मिखेल मेकहेडिलीशिविली को पराजित को मैच में अपने वजीर के बलिदान देते हुए पराजित कर दिया । उनके अलावा वियानी अंटोनिओ नें जॉर्जिया के लूका पाइचादे को ,संकल्प गुप्ता नें ब्राज़ील के अलेक्ज़ेंडर फिएर को मित्रभा गुहा नें बांग्लादेश के जियौर रहमान को मात देते हुए तीन राउंड के बाद जॉर्जिया के ही लेवन पंतुसूलिया ,अर्मेनिया के समवेल सहकयान और पेट्रोसियन मेनुएल , दीपन चक्रवर्ती जैसे दिग्गज खिलाड़ियों के साथ सयुंक्त बढ़त हासिल कर ली है ।

गोवा इंटरनेशनल R1 -बड़े उलटफेर : 4 ग्रांडमास्टर हारे !

18/06/2019 -

गोवा में आज से गोवा ग्रांडमास्टर इंटरनेशनल शतरंज चैंपियनशिप का भव्य शुभारंभ गोवा के पावर मिनिस्टर नीलेश कबराल और टॉप सीड वेनुएजेला के ग्रांड मास्टर इतुरिजागा एडुयार्डो के बीच पहली चाल चलकर हुआ । इससे पूर्व 23 देशो के 246 खिलाड़ी की मौजूदगी में भारतीय संस्कृति की झलक के साथ भारतनाट्यम नृत्य की प्रस्तुति के साथ रंगारंग समारोह भी आयोजित किया गया । प्रतियोगिता में शीर्ष भारतीय खिलाड़ी अभिजीत गुप्ता है साथ ही प्रतियोगिता में उन्हे 5 वी वरीयता दी गयी है । उनके अलावा दीपन चक्रवर्ती 12वे सीड ,देबाशीष दास 14वे सीड ,दुनिया के दूसरे सबसे युवा ग्रांड मास्टर डी गुकेश को 16वीं तो इनयान पी को 19वीं वरीयता दी गयी है । पहला दिन बड़े उलटफेर भी लेकर आया जब चार ग्रांडमास्टरों को हार का मुह देखना पड़ा - पढे यह लेख

सुधीर सिन्हा बने गोल्डेन जुबली फीडे रेटिंग विजेता

18/06/2019 -

बिहार की राजधानी पटना में सम्पन्न हुए लाला लाजपत राय स्मृति गोल्डन जुबली शतरंज टूर्नामेंट का खिताब बिहार के सीनियर खिलाड़ी सुधीर कुमार सिन्हा नें अपने नाम कर लिया । अंतिम राउंड में काफी कुछ अप्रत्याशित हुआ और विजेता बने सुधीर कुमार सिन्हा के प्रतिद्वंदी मेहांजुल होदा खेलने ही नहीं पहुंचे और इस प्रकार सिन्हा 8.5 अंको पर पहुँच गए जबकि टाईब्रेक में आगे चल रहे विपुल सुहासी को अंतिम राउंड में निचले वरीय आशीष राज नें ड्रॉ पर रोककर खिताब जीतने से वंचित कर दिया । पढे मुख्य आयोजक धर्मेंद्र कुमार की रिपोर्ट । 

गोल्डेन जुबली फिडे रेटिंग -विपुल और सुधीर सबसे आगे

16/06/2019 -

अखिल बिहार शतरंज संघ के तत्वावधान में पटना के गांधी मैदान के करीब लाला लाजपत राय भवन में आयोजित लाला लाजपतराय स्मृति ए बी सी ए गोल्डेन जुबली फिडे रेटिंग शतरंज प्रतियोगिता के में आज आठवें चक्र की समाप्ति के बाद विपल सुभाषी और सुधीर सिन्हा 7 .5 अंको के साथ संयुक्त रूप से अपनी अग्रता कायम किये हुए हैं। बिहार शतरंज में एक बार फिर उसके सभी बड़े खिलाड़ी एक टूर्नामेंट में खेल रहे है और परिणाम स्वरूप कई युवा और नई प्र्तिभाओ को उनके साथ खेलने के मौके मिल रहा है । प्रतियोगिता कुल 166 खिलाड़ियों को आयोजित करने में कामयाब रही है । बिहार के अलावा और भी राज्यो से खिलाड़ी यहाँ भाग लेने पहुंचे है । पढे पढे बिहार प्रदेश धर्मेंद्र कुमार की यह रिपोर्ट